मीन राशि और प्रेम संबंध

आपकी जन्म राशि मीन है और इस राशि को जलतत्व राशि की श्रेणी में रखा गया है. इस राशि का चिन्ह दो मछलियाँ है जो परस्पर एक-दूसरे की पूँछ को देख रही हैं अर्थात दोनों गोलाई में घूमी हुई है और उनका मुख दूसरे की पूँछ की ओर है. स्वभाव से इस राशि को द्विस्वभाव…

कुंभ राशि और प्रेम संबंध

आपकी जन्म राशि कुंभ है और इस राशि को वायु तत्व राशि के अन्तर्गत रखा गया है. स्वभाव से इस राशि को स्थिर स्वभाव की राशि माना गया है. राशि के चिन्ह में एक व्यक्ति को दिखाया गया है जिसके कंधे पर कुंभ है और उस कुंभ को व्यक्ति ने पकड़ रखा है. कुंभ के…

मकर राशि और प्रेम संबंध

आपकी जन्म राशि मकर है और यह राशि पृथ्वी तत्व राशियों की श्रेणी में आती है. इस राशि का स्वभाव चर माना गया है अर्थात सदा चलायमान रहना. इस राशि का जो चिन्ह है उसका मुख बकरी जैसा तो पूँछ मछली जैसी है. पृथ्वी तत्व राशि होने से आप एक व्यवहारिक व्यक्ति हैं जिससे आपको…

धनु राशिे और प्रेम संबंध

आपकी जन्म राशि धनु है और इस राशि को अग्नि तत्व राशियों की श्रेणी में रखा गया है. यह स्वभाव से द्विस्वभाव राशियों के अन्तर्गत आती है. इसका चिन्ह घोड़े पर सवार एक युवक है जिसके हाथ में धनुष है और युवक ने धनुष को खींचा हुआ है जैसे किसी का शिकार करने वाला है….

प्रेम अथवा अंतर्जातीय विवाह के ज्योतिषीय योग – भाग 3

इससे पहले हम भाग 1 और भाग 2 में प्रेम अथवा अन्तर्जातीय विवाह के योगों के विषय में चर्चा कर चुके हैं. इस भाग में हम चर्चा को आगे बढ़ाते हुए कुछ और योगों की बात करेगें जिनके कुंडली में बनने पर मान्यताओं से हटकर विवाह होता है. यदि किसी जन्म कुंडली में पाप ग्रहों…

प्रेम अथवा अंतर्जातीय विवाह के ज्योतिषीय योग – भाग 2

भाग एक में कई तरह के ज्योतिषीय योगों की चर्चा की गई हैं जिनके जन्म कुंडली में होने पर जातक का प्रेम विवाह होता है अथवा अन्तर्जातीय विवाह के योग भी बनते हैं. इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए इस दूसरे भाग में भी उन्हीं योगों की चर्चा को आगे बढ़ाया जाएगा. जातक की जन्म…

प्रेम विवाह अथवा अंतर्जातीय विवाह के ज्योतिषीय योग – भाग 1

वर्तमान समय में युवक-युवतियाँ जहाँ हर क्षेत्र में कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहें है वहाँ एक-दूसरे के प्रति आकर्षण होना भी आम बात हो गई है और यह आकर्षण कब प्रेम का रुप ले लेता है पता ही नहीं चलता. ऎसे में प्रेम विवाह होना कोई आश्चर्य की बात नहीं रह गई है….

भारतीय ज्योतिष में विवाह के प्रकार

  प्राचीन काल के विद्वानों ने आठ प्रकार के विवाहों का उल्लेख किया है जो निम्नलिखित प्रकार के होते थे. इनमें से कई विवाह तो अब समाप्त हो चुके हैं लेकिन फिर भी हम सभी आठों प्रकार के विवाह का संक्षिप्त वर्णन कर रहे हैं.   1) ब्रह्म विवाह – Brahma Marriage यह विवाह प्राचीन…

ज्योतिष के आधार पर तलाक का विश्लेषण

  वर्तमान समय में तलाक के योग बढ़ते जा रहे हैं, इसके बहुत से कारण होते हैं, जिससे पति-पत्नी दोनों ही आपस में सामंजस्य नहीं रख पाते हैं और वैचारिक मतभेद इतने ज्यादा हो जाते हैं कि नौबत तलाक तक पहुंच जाती है. तलाक में कोर्ट केस भी चलता है इसलिए सप्तम भाव जीवनसाथी के…

मेष राशि और प्रेम संबंध

आपकी जन्म राशि मेष है. इस राशि की गणना अग्नितत्व राशि के रुप में होती है. हर बात में जल्दबाजी तथा शीघ्रता करना आपका स्वभाव होता है. आपके भीतर हर बात को लेकर उत्सुकता भी बहुत होती है. आप किसी काम को करने से भी पीछे नहीं हटते हैं और एक बार जो लक्ष्य आपने…

वृष राशि और प्रेम संबंध

आपकी राशि वृष है और शुक्र इसका स्वामी है. शुक्र को प्रेम संबंधों के लिए अनुकूल माना जाता है. वृष राशि होने से आप बहुत ही व्यवहारिक व्यक्ति होते हैं. आप सौम्य प्रवृति के व्यक्ति हैं. आपके विचारों तथा स्वभाव में ठहराव दिखाई देता है. यह ठहराव ही आपको शांतचित्त प्रवृति का बनाता है. कोई…

मिथुन राशि और प्रेम संबंध

आपकी जन्म राशि मिथुन है और बुध इसका स्वामी होता है. यह राशि स्वभाव से द्वि-स्वभाव होती है और इसका तत्व वायु होता है. बुध के प्रभाव से आप प्रतिभाशाली व्यक्ति होते हैं. आप किसी भी परिस्थिति के अनुसार स्वयं को ढ़ालने में कुशल होते हैं. आप अपनी बात को बहुत ही तर्कपूर्ण तरीके से…