महाभागवत – देवी पुराण – सत्रहवाँ अध्याय 

इस अध्याय में भगवती गीता के वर्णन में ब्रह्मयोग का उपदेश, पाँचभौतिक देह, गर्भस्थ जीव का स्वरुप तथा गर्भ में

पढ़ना जारी रखें