अश्विनी नक्षत्र

on
ashwini
भचक्र में शून्य से 13 अंश 20 कला तक का विस्तार अश्विनी नक्षत्र के अधिकार में आता है. अश्विनी नक्षत्र दो “अश्विन” से उत्पन्न हुआ नक्षत्र है. यह दो सितारो का समूह है. लेकिन कुछ अन्य मतानुसार अश्विनी नक्षत्र तीन सितारो का समूह है जिनकी आकृति दो अश्व के मुख समान है. इस नक्षत्र के अधिष्ठाता स्वामी दो अश्विन ही है. इनकी दो भुजाएँ हैं और यह सूर्य तथा सविता के वाहन हैं. अश्विन को देवताओ का चिकित्सक माना गया है. वेदो के अनुसार सृष्टि के आरंभ काल में केवल सृष्टा था जो प्रजा व पालक दोनो की ही भूमिका अदा करता था. बाद में सृष्टा ने विभिन्न रुपो की रचना की जो देवता कहलाए. इन्हीं रुपो में सबसे पहली कृति दो भुजाओं वाले अश्विन की थी.

 

शारीरिक गठन और स्वभाव – Nature And Physique
इस नक्षत्र में जन्म होने पर आपकी घोड़े के समान होने की संभावना बनती है. आप सुंदर मुखाकृति के व्यक्ति होगें. बड़ी व चमकदार आंखे हो सकती हैं. नाक सामान्य से कुछ बड़ी हो सकती हैं और माथा चौड़ा हो सकता है. इस नक्षत्र में जन्म लेने पर आप शांत प्रवृति के व्यक्ति होते हैं. आप कुछ जिद्दी स्वभाव के भी हो सकते हैं. आप अपना काम भी चुपचाप करते रहते हैं, किसी से कोई जिक्र नहीं करते हैं. आपको जो प्यार करता है उस पर आप अपना सब कुछ कुर्बान करने वाले होते हैं. आप विपत्तियो तथा प्रतिकूल परिस्थितियो में भी अपना संयम बनाए रखते हैं. आप मुसीबत में अफंसे लोगो की सहायता को सदा तत्पर रहते हैं.

 

आपको जो करना होता है वही आप करते है. आप किसी के प्रभाव में आकर कभी कोई निर्णय नहीं लेते हैं. आपकी अपनी सोच व अपना ही ढ़ंग होता है. आप एक बार जिस काम को करने का ठान लेते हैं तब उसे करके ही मानते हैं चाहे उसका परिणाम कुछ भी निकलें. आपकी आस्था भगवान के प्रति भी होती है लेकिन आप अंधविश्वास नहीं करते हैं. आप रुढ़िवादी नहीं होते हैं, आप आधुनिक विचारो के समर्थक होते हैं. समझदार होते हुए भी आप बहुत बार कई बातो को तूल दे देते हैं. अपने वातावरण को अपने ही अनुकूल बनाने की फिराक में रहते हैं.

 

अश्विनी नक्षत्र के जातको का व्यवसाय – Profession of the Native
आप सभी काम करने में निपुण होते हैं. संगीत व साहित्य प्रेमी हो सकते हैं. हो सकता है कि 30 वर्ष की आयु तक आपका जीवन संघर्षशील रहे लेकिन उसके उपरांत आप लगातार जीवन में आगे ही बढ़ेगें. आपको छोटे से काम के लिए भी ज्यादा मानसिक परेशानी बनी रह सकती है. बाद के वर्षो में आप सफलता की सीढ़ियाँ चढ़ते जाएंगे. आप वैसे तो कुछ कंजूस स्वभाव के होते हैं लेकिन शानो-शोकत दिखाने के चक्कर में आप अपनी आय से ज्यादा खर्च कर देते हैं. अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति आप निरन्तर प्रयासो द्वारा करके करते हैं.

 

पारीवारिक जीवन – Family Life
आप अपने परिवार के सदस्यो को बहुत प्यार करते हैं. लेकिन अपने कटु व्यवहार के कारण वह आपको ज्यादा पसंद नहीं करते हैं. आपको अपने पिता से ज्यादा प्यार व दुलार नहीं मिलता है और ना ही किसी तरह की देखभाल ही मिलती है. आपको अपने मामा से ही सहारा मिलता है और जीवन में आगे बढ़ते हैं. परिवार से अलग बाहर के लोग भी आपकी सहायता करते हैं. 26 से 30 वर्ष की आयु के मध्य में विवाह होने की संभावना बनती है.

 

स्वास्थ्य – Health
स्वास्थ्य आपका ठीक-ठाक ही रहेगा. लेकिन सिरदर्दव ह्रदय रोग आदि की शिकायत हो सकती है. आपको अच्छे स्वास्थ्य के लिए अश्विनी नक्षत्र की पूजा करनी चाहिए. इससे आपको स्वास्थ्य लाभ होगा.
Advertisements