चित्रा नक्षत्र और व्यवसाय

on

चित्रा नक्षत्र का विस्तार कन्या राशि में 23 अंश(Degree) 20 कला(Minute) से आरंभ होकर तुला राशि में 6 अंश 40 कला तक रहता है. चित्रा नक्षत्र का विस्तार दो राशियों कन्या व तुला तक रहता है इसलिए आजीविका के संबंध में भी इन दोनों राशियों के गुणों का समावेश देखा जा सकता है. चित्रा नक्षत्र के अन्तर्गत निम्नलिखित व्यवसाय आते हैं :-

सभी प्रकार के शिल्पी तथा दस्तकार, मरम्मत करने वाले, इस नक्षत्र में आते हैं. डिजायनर अथवा फैशन डिजाईनर, मॉडल, सौन्दर्य प्रसाधन उद्योग, फोटोग्राफर, ग्राफिक कला, पेंटर, चित्रकार, गीत-संगीत रचना, वाद्य कलाकार, आंतरिक रुप सज्जा, आभूषण निर्माता, वास्तुविद, वास्तु विशेषज्ञ, वक्ता, उद्घोषक, मंच संचालक, मंच प्रबंधक, पटकथा लेखक, उपन्यासकार, नाटक व सिनेमा का सेट तैयार करने वाले, कला निदेशक,थियेटर-सिनेमा-नाटक से जुड़े विविध कार्य आदि इस नक्षत्र के अधिकार में आते हैं.

प्लास्टिक सर्जरी, शल्य चिकित्सक, जड़ी-बूटी की खोज, विशिष्ट योग्यता व दक्षता परक विविध व्यवसाय, वाणिज्य व्यापार विशेषज्ञ, सभी प्रकार के यंत्र व उपकरण का अन्वेषण खोज, विकास तथा उत्पादन व उपयोग संबंधी कार्य, विज्ञापन व मंडी विकास के कार्य, निर्माण कार्य, भूखंड विकास, भवन बनाने वाले, रत्नों के पारखी, खूश्बू बनाने वाले, लिपिकार, क्लर्क, वस्त्र रंगने वाले, वस्त्र निर्माता, जुलाहे, गणित अथवा हिसाब-किताब करने वाले, एकाउन्टेंट,कीमती अनाज व्यवसाय, अमीरों का सामान विक्रय आदि सभी उपरोक्त व्यवसाय चित्रा नक्षत्र के अन्तर्गत आते हैं.  

Advertisements