श्रीगणेश जी के विभिन्न स्वरुपों का ध्यान

भगवान गणेश – Lord Ganesha  सिन्दूरवर्णं द्विभुजं गणेशं लम्बोदरं पद्मदले निविष्टम । ब्रह्मादिदेवै: परिसेव्यमानं सिद्धैर्युतं तं प्रणमामि देवम ।।  

पढ़ना जारी रखें