शनि के लिए मंत्र

शनि के लिए वैदिक मंत्र  “ऊँ शं नो देवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये । शं योरभि स्रवन्तु न:” शनि के लिए

Continue reading

नवग्रह स्तोत्र

जपाकुसुम संकाशं काश्यपेयं महाद्युतिम । तमोSरिं सर्वपापघ्नं प्रणतोSस्मि दिवाकरम ।। दधिशंखतुषाराभं क्षीरोदार्णव सम्भवम । नमामि शशिनं सोमं शंभोर्मुकुट भूषणं ।।

Continue reading

error: Content is protected !!